Home » Coronavirus News » अमेठी: बैंक मैनेजर के व्यापारी बेटे का अपहरण, चंद घंटे में पुलिस ने किया खुलासा, जानिए पूरा मामला

अमेठी: बैंक मैनेजर के व्यापारी बेटे का अपहरण, चंद घंटे में पुलिस ने किया खुलासा, जानिए पूरा मामला

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी (Amethi) में बैंक मैनेजर के व्यापारी बेटे का अपहरण (Kidnapping) कर भाग रहे बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ (Police Encointer) हो गई. मठभेड़ में सभी चार बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गए, जिसमें एक बदमाश को पैर में गोली लगी जबकि एसओजी इंचार्ज के भी हाथ में गोली लगी है. दोनों का अमेठी सीएचसी में इलाज चल रहा है.

दरअसल कमरौली थाना क्षेत्र के इंडस्ट्रियल एरिया स्थित यूपीएसआईडीसी कालोनी में रहने वाले ग्रामीण बैंक मैनेजर के इकलौते बेटे का मोहनगंज थाना क्षेत्र में नीली कार सवार चार बदमाशों ने अपहरण कर लिया. घटना के कुछ समय बाद बदमाशों ने युवक के पिता के मोबाइल पर फोन कर 20 लाख की फिरौती मांगी. बेटे के अपहरण की खबर मिलते ही मां-बाप के हालात खराब हो गई और किसी तरह बुजुर्ग पिता मोहनगंज थाने पहुंचे और घटना की जानकारी दी.

दिनदहाड़े अपहरण की घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया. खुद एसपी दिनेश सिंह थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और एसओजी और सर्विलांस टीम को सक्रिय कर 4 टीमों का गठन कर जांच के आदेश दिए. पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे एसपी को सूचना मिली कि अपहरणकर्ता युवक को लेकर अमेठी कोतवाली की तरफ मूव कर रहे हैं.

इस सूचना पर पुलिस ने अमेठी कोतवाली और संग्रामपुर थाने के बॉर्डर पर सभी बदमाशों को घेर लिया. खुद को घिरता देख अपहरणकर्ताओं ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया, जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने भी बदमाशों पर फायरिग की और सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर अपहृत युवक को सकुशल बरामद कर लिया.

पुलिस और अपहरणकर्ताओं के बीच फायरिंग में एक बादमाश को गोली लगी जबकि एसओजी के प्रभारी विनोद यादव को भी हाथ में गोली लगी. दोनों का अमेठी सीएचसी में इलाज शुरू हुआ. घटना का खुलासा करने वाली टीम को एसपी ने 25 हजार रुपए का नगद इनाम देने की घोषणा भी कर दी.

चंद घंटे के भीतर सभी अपहरणकर्ता गिरफ्तार

सुबह 10 बजे बैंक मैनेजर का कपड़ा व्यापारी बेटा गौरव निगम अपने दोस्त के साथ अपनी दुकान खोलने राजा फत्तेपुर जा रहा था. गौरव अभी गंदा नाला पुल के पास पहुंचा ही था कि नीले रंग की कार पर सवार चार बदमाशों ने असलहे के बल पर उसका अपहरण कर लिया. दोस्त के अपहरण के बाद उसका साथी सीधे कमरौली थाने पहुंचा और थानाध्यक्ष शिवकांत पांडेय को आप बीती बताई.

थानाध्यक्ष युवक को लेकर घटनास्थल पहुंचे लेकिन घटनास्थल मोहनगंज होने के कारण उन्होंने पूरे मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों के अलावा मोहनगंज थाना प्रभारी को दी. दिनदहाड़े हुए युवक के अपहरण की सूचना मिलते ही एसपी समेत कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची.

एसपी दिनेश सिंह ने तुरंत एसओजी और सर्विलांस और तीन टीमों का गठन कर अपहरणकर्ताओं की गिरफ्तारी और युवक को सकुशल बरामद करने का जिम्मा सौंपा, जिसके बाद टीमें सक्रिय हुई.

अपहरणकर्ताओं ने मांगी 20 लाख की फिरौती

युवक के अपहरण के तीन घंटे बाद अपहरणकर्ताओं ने युवक के मोबाइल से उसके पिता को फोन कर 20 लाख रुपए की फिरौती मांगी और पुलिस में शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी. सर्विलांस टीम ने अपहरणकर्ताओं की लोकेशन पता की. पता चला कि अपहरणकर्ता अमेठी कोतवाली और संग्रामपुर कोतवाली क्षेत्र के बॉर्डर पर मौजूद हैं, जिसके बाद कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची और बदमाशों को घेर लिया.

दो सगे भाइयों ने रची साजिश

शिवरतनगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले दो सगे भाइयों आदित्य और अभय शुक्ला ने अपने साथियों के साथ मिलकर अपहरण की साजिश रची और पंजाब नंबर की नीली कार से अपहरण की घटना को अंजाम दिया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.


Source link

x

Check Also

Kitchen Hacks: ब्रेकफास्ट में झटपट बनाएं टेस्टी मूंग दाल का चीला, जानें इसकी बेहद आसान रेसिपी

Kitchen Hacks Moong Daal Chila Recipe: सुबह-सुबह हर महिला को सबसे ज्यादा इस बात की ...