Home » Hindi » News Hindi » गजनी के बाद हेरात पर भी तालिबान का कब्जा, एक दिन में अफगान सरकार को दूसरा झटका

गजनी के बाद हेरात पर भी तालिबान का कब्जा, एक दिन में अफगान सरकार को दूसरा झटका

काबुल
तालिबान ने अफगानिस्तान के तीसरे सबसे बड़े शहर हेरात पर भी कब्जा जमा लिया है। गुरुवार सुबह की तालिबान आतंकियों ने राजधानी काबुल से 150 किलोमीटर दूर स्थित गजनी पर कब्जा किया था। इसके साथ ही तालिबान ने एक हफ्ते में अफगानिस्तान के 34 प्रांतीय राजधानियों में से 11 पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया है। ईरान सीमा के पास स्थित हेरात पर तालिबान के कब्जे को अफगान सरकार के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

हेरात पर जीत तालिबान की बड़ी सफलता
हेरात पर कब्जा तालिबान के लिए बड़ा पुरस्कार बताया जा रहा है। तालिबान लड़ाके इस ऐतिहासिक शहर में महान मस्जिद के पास दिखाई दिए हैं। हेरात के सरकारी इमरतों पर भी तालिबान का कब्जा हो गया है। चश्मदीदों ने बताया कि एक सरकारी इमारत में छिटपुट गोलियां चलने की आवाज सुनाई दी, जबकि बाकी शहर विद्रोहियों के नियंत्रण में खामोश हो गया है।

Taliban News: 90 दिन में काबुल पर भी कब्जा कर लेगा तालिबान, अमेरिकी खुफिया आकलन की चेतावनी
गुरुवार सुबह गजनी पर किया था कब्जा
तालिबान ने गुरुवार सुबह ही गजनी पर कब्जा जमाया था। इसी के साथ तालिबान ने काबुल को दक्षिणी प्रांतों के साथ जोड़ने वाले एक महत्वपूर्ण राजमार्ग को भी बंद कर दिया है। ऐसे में अब काबुल की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। काबुल में मौजूद सभी दूतावासों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। ऐसी भी रिपोर्ट्स हैं कि कई देशों ने तो अपने दूतावास को खाली भी कर दिया है।

‘तालिबान का सफाया कर दिया जाएगा’, अफगानिस्तान के 67 साल के इस ‘बूढ़े शेर’ की दहाड़ सुनिए
अमेरिका और जर्मनी ने नागरिकों को देश छोड़ने को कहा
तालिबान के हमलों को देखते हुए अमेरिका और जर्मनी ने अपने नागरिकों को तुरंत अफगानिस्तान छोड़ने को कहा है। दोनों देशों ने कहा कि है कि सुरक्षा को देखते हुए सभी नागरिक वाणिज्यिक उड़ानों के बंद होने से पहले अफगानिस्तान को छोड़ दें। वहीं अमेरिका ने कहा है कि वह अपने दूतावास का संचालन अभी जारी रखेगा। वहीं भारत ने भी कहा है कि काबुल स्थित उसके दूतावास को अभी संचालित किया जाएगा।

भारत से गिफ्ट में मिले Mi-24 हेलिकॉप्टर पर तालिबान का कब्जा, अफगान वायु सेना छोड़कर भागी
30 से 90 दिन में तालिबान का होगा कब्जा
वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, अफगानिस्तान पर करीबी नजर रखने वाले अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि अमेरिकी सेना ने अब आंकलन किया है कि अगले 90 दिनों के भीतर अफगानिस्तान की सरकार का पतन हो सकता है। हालांकि, दूसरे अधिकारी ने दावा किया है कि तालिबान यह काम मात्र 30 दिनों के अंदर कर सकता है। इन अधिकारियों ने इस मूल्यांकन पर चर्चा करने के लिए अधिकृत नहीं होने के कारण अपना नाम सार्वजनिक करने से इनकार कर दिया।


Source link

x

Check Also

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 16 हजार 862 केस दर्ज, 379 की मौत

India Coronavirus Updates: देश में जानलेवा कोरोना वायरस के नए मामलों में कल की तुलना ...