Home » Hindi » Business News Hindi » मंत्री बनते हुए मध्यप्रदेश पर मेहरबान हुए सिंधिया! आठ नई फ्लाइट्स शुरू करने का ऐलान

मंत्री बनते हुए मध्यप्रदेश पर मेहरबान हुए सिंधिया! आठ नई फ्लाइट्स शुरू करने का ऐलान

नई दिल्ली. हाल ही में मोदी कैबिनेट में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बनाए गए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मध्यप्रदेश को बड़ी सौगात देते हुए 16 जुलाई से आठ नई फ्लाइट्स शुरू करने की घोषणा की. सिंधिया ने रविवार को अपने ट्टिटर हैंडल से ट्टिट कर इसकी जानकारी दी और बताया कि 16 जुलाई से 8 नई फ्लाइट्स शुरू होने जा रही है. मध्यप्रदेश में जिस शहर से यह फ़्लाइट शुरू हो रही है उसमें ग्वालियर-अहमदाबाद, ग्वालियर-पुणे, ग्वालियर-जबलपुर, ग्वालियर-मुंबई फ्लाइट भी शामिल हैं. ऐसे में अब ग्वालियर इन चार शहरों से भी हवाई सुविधा से जुड़ गया है.
यह फ्लाइट्स सिविल एविएशन मिनिस्ट्री के उड़ान योजना के तहत शुरू की गई हैं. इस योजना में फ्लाइट्स देश के कम से कम उपयोग होने वाले एयरपोर्ट का इस्तेमाल करती हैं और यात्रियों को सस्ते दर पर टिकट मुहैया कराया जाता है.

सिंधिया ने ट्वीट कर कहा, मध्य प्रदेश के लिए अच्छी खबर. शुक्रवार 16 जुलाई से स्पाइसजेट (SpiceJet) के जरिए 8 नई फ्लाइट्स ग्वालियार-मुंबई-ग्वालियार, ग्वालियार-पुणे-ग्वालियार, जबलपुर-सूरत-जबलपुर, अहमदाबाद-ग्वालियार-अहमदाबाद के लिए शुरू कर रहे हैं. उन्होंने आगे लिखा है कि हम उड़ान योजना को और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

सिंधिया द्वारा हरदीप सिंह पुरी की जगह सिविल मिनिस्ट्री का कार्यभार संभालने के बाद यह पहला निर्णय है. सिंधिया ने ऐसे समय यह पदभार संभाला है, जब मंत्रालय घाटे में चल रही एयर इंडिया के लिए विनिवेश की प्रक्रिया के संबंध में कई अन्य मामलों पर काम कर रहा है. जिसमें अधिक से अधिक एयरपोर्ट का निजीकरण और कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित सेक्टर को बढ़ावा देने के तरीके शामिल हैं.

बता दें कि उड़ान योजना सिविल एविएशन मिनिस्ट्री की एक खास योजना है. जिससे देश में हवाई यात्रा को सस्ता और व्यापक बनाने के लिए किया गया है. यह ऐसे एयरपोर्ट से उड़ान भरती है जहां यात्रियों की संख्या कम होती है.


Source link

x

Check Also

Devyani International IPO: देवयानी इंटरनेशनल ने एंकर निवेशकों से जुटाए 825 करोड़ रुपये

नई दिल्ली. देवयानी इंटरनेशनल (Devyani International) ने आईपीओ से पहले एंकर निवेशकों से 825 करोड़ रुपये ...